11/27/2011

तस्‍वीरें झूठ नहीं बोलतीं...

पोस्‍टमॉर्टम के दौरान खींची गईं माओवादी नेता किशनजी की ये तस्‍वीरें आज सुबह  सर्कुलेट हुई हैं। अब तक वरवरा राव समेत किशनजी की भतीजी, उनकी मां और मुख्‍यधारा की राजनीति के कई नेताओं ने आरोप लगाए हैं कि किशनजी को पुलिस मुठभेड़ में नहीं मारा गया (जैसा कि सरकार का दावा है), बल्कि बिल्‍कुल चेरुकुरी आज़ाद की तर्ज़ पर गिरफ्तार कर के प्रताड़ना दी गई और फिर मारा गया। इन तस्‍वीरों के आने से पहले ये महज़ आरोप कहे जा सकते थे, लेकिन नीचे दी गई तस्‍वीरों को देखने के बाद भी कुछ कहने की ज़रूरत रह जाती है क्‍या ...????  




प्रकाशित सामग्री से अपडेट रहने के लिए अपना ई-मेल यहां डालें