6/13/2016

जल्‍द आ रहा है केवल जनपथ पर...





समाजवादी पार्टी से राज्‍यसभा में गए ठाकुर अमर सिंह ने कहा है कि जवाहरबाग में नक्‍सली थे। क्‍या आप जानना चाहेंगे अमर सिंह के नक्‍सली कैसे दिखते हैं? मीडिया कह रहा है कि जवाहरबाग में रॉकेट लॉन्‍चर मिला। क्‍या आपको पता है कि बाग में हथियार के नाम पर क्‍या था? कुछ लोग रामवृक्ष यादव को सनकी बता रहे हैं। जेल में बंद एक सत्‍याग्रही औरत ने बच्‍चा जना तो उसका नाम रामवृक्ष रख दिया। इसका मतलब ये औरत भी सनकी है। इसकी तरह वे हजारों लोग भी सनकी थे जो जवाहरबाग में इकट्ठा थे। तो क्‍या इस देश में सनकी लोगों को जिंदा रहने का हक नहीं? उन्‍हें गोली से मार दिया जाएगा? आग में झोंक दिया जाएगा?  अस्‍पताल में हथकड़ी बांधकर रखा जाएगा? कौन है इस देश में असल सनकी? जो मरा या जिसने सनकी समझ कर इंसान को मारा? या फिर वो जो सनकियों की मौत को अपनी सनक लागू करने में भुना रहा है?  

सवाल कई हैं। सब अनसुलझे। चैनलों और अखबारों की भीड़ में एक रिपोर्ट ऐसी नहीं है जो जवाहरबाग का सच्‍चा चेहरा दिखा सके। जानना है कि 2 जून, 2016 को जवाहरबाग में क्‍या हुआ? देखते रहिए जनपथ... 

मथुरा के जवाहरबाग की सच्‍ची कहानी, प्रत्‍यक्षदर्शियों की जुबानी, अनकट... 

4 टिप्‍पणियां:

ankit kunwar ने कहा…

bahut sahi kam hai. ham report ka besabri se intjar kar rahe hai..... rajesh arjun

Bhupesh ने कहा…

jo bahut jald anewala tha use kuchh der nahi ho rahi hai?

Jun Puth ने कहा…

भूपेश जी, आपकी शिकायत वाजिब है। बस दो-चार दिन और प्रतीक्षा। 2 तारीख को पहली किस्‍त की उम्‍मीद करें।

Bhupesh ने कहा…

Thanks a lot for keeping your promise.

प्रकाशित सामग्री से अपडेट रहने के लिए अपना ई-मेल यहां डालें